मां-बेटी की हत्या: गला दबाकर नहीं की गई थी मासूम की हत्या, पोस्टमार्टम रिपोर्ट में खुला दिल दहला देने वाला राज

ललितपुर से सनसनीखेज खबर सामने आई है. यहां अपनी गर्लफ्रेंड से बात कर रहे युवक को उसकी पत्नी ने रंगे हाथों पकड़ लिया. इस पर दंपती के बीच झगड़ा हो गया। गुस्साए पति ने अपनी पत्नी और मासूम बच्चे को बैट से पीट-पीटकर मार डाला। पोस्टमार्टम रिपोर्ट में इसकी पुष्टि हुई है.

ललितपुर में प्रेमिका से बात करने का विरोध करने पर पत्नी और बेटी की हत्या के मामले में पुलिस ने आरोपी की मां और उसकी प्रेमिका को गिरफ्तार कर लिया है. मंगलवार को कोर्ट में पेश करने के बाद दोनों को जेल भेज दिया गया.

पोस्टमार्टम में मां-बेटी के सिर पर गंभीर चोटें पाई गईं। इसी कारण उनकी मृत्यु हो गयी. पोस्टमार्टम रिपोर्ट से पता चला कि मां के अलावा बेटी की भी गला घोंटकर नहीं बल्कि बैट से हमला कर हत्या की गई थी.

शहर के चांदमारी मुहल्ला निवासी नीरज ने सात जनवरी की देर रात प्रेम प्रसंग को लेकर हुए झगड़े में अपनी पत्नी मनीषा और एक साल की बेटी निपखा की हत्या कर दी थी. पुलिस ने दोनों शवों का पोस्टमार्टम कराया.

मनीषा और निपखा के सिर की हड्डियां टूटी हुई मिलीं। मनीषा के सिर पर तीन से चार बार क्रिकेट बैट से हमला किया गया था, जबकि निप्खा के सिर पर एक बार क्रिकेट बैट से हमला किया गया था। हालांकि, इस हमले में नीपिका के सिर से खून नहीं निकला.

सिर की हड्डी टूट गयी थी और सिर के अंदर खून का थक्का जम गया था जो नीपिका की मौत का कारण बना. मंगलवार को पुलिस ने मुखबिर की सूचना पर हत्यारोपी नीरज की प्रेमिका और मां शीला देवी को रेलवे स्टेशन के पास से गिरफ्तार कर लिया.

दोनों आरोपियों को कोर्ट में पेश करने के बाद जेल भेज दिया गया. प्रेम प्रसंग के चलते हुए इस दोहरे हत्याकांड की चर्चा दूसरे दिन भी शहर के लोगों के बीच रही.

एक साल की बच्ची ने ऐसा क्या गलत किया कि उसकी हत्या कर दी गई?
जिले के लोग दोहरे हत्याकांड को अंजाम देने वाले आरोपी नीरज को कोस रहे हैं. उनका कहना है कि एक साल की मासूम बच्ची ने ऐसा क्या बिगाड़ा था कि नीरज ने उसकी हत्या कर दी। लोग ऐसे कलयुगी पिता को कड़ी से कड़ी सजा देने की मांग कर रहे हैं.

माता-पिता को हत्या का कोई संदेह नहीं था
मृतक मनीषा की मां बिमला और पिता पुरूषोत्तम का रो-रोकर बुरा हाल है। मां बिमला अपनी बेटी मनीषा और पोती निपखा की बातें याद कर बेहोश हो जाती है। अन्य महिलाएं समझा-बुझाकर सांत्वना देती हैं। इस दौरान मनीषा की मां, पिता और भाई का कहना है कि उन्हें इस बात का अंदाजा नहीं था कि नीरज सिर्फ प्रेम प्रसंग के चलते उनकी बेटी और पोती की हत्या कर देगा. अगर उन्हें जरा सा भी शक होता तो वे अपनी बेटी और पोती को जिंदगी भर अपने पास रखते।

पुलिस हिरासत में हत्यारोपी की मां बोली- ऐसे बेटे को फांसी दो
हत्यारे नीरज कुशवाहा की मां शीला देवी को पुलिस ने मंगलवार को गिरफ्तार कर लिया. इस दौरान शीला देवी ने कहा कि जिस हत्यारे बेटे ने अपनी पत्नी और एक साल की बेटी की बेरहमी से हत्या की है, उसे फांसी की सजा मिलनी चाहिए.


पत्नी और बेटी के हत्यारे को जेल की बैरक नंबर 2ए में रखा गया था.
पत्नी और एक साल की बेटी की बेरहमी से हत्या करने के आरोपी नीरज कुशवाहा को गिरफ्तार कर कोर्ट में पेश करने के बाद जेल भेज दिया गया. हत्यारोपी नीरज को जिला कारागार में बैरक नंबर 2ए में रखा गया है। जबकि हत्यारोपी प्रेमिका शिवानी और मां शीला देवी को महिला बैरक में रखा गया है।

WhatsApp Follow Me
Telegram Join Now
Instagram Follow Me

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top