बिहार BPSC पास फर्जी शिक्षक दरभंगा में गिरफ्तार, पूछताछ में बोला- मेरी जगह किसी और ने दी थी परीक्षा

बिहार लोक सेवा आयोग द्वारा प्रथम चरण में चयनित शिक्षकों का अंगूठा लगाने का कार्य विगत तीन जनवरी से एमएल एकेडमी में चल रहा है. शुक्रवार को प्रथम चरण के नवचयनित शिक्षकों का अंगूठा छाप यानी पुन: सत्यापन का कार्य किया गया. अलीनगर शुरू हुआ। इस बीच अलीनगर प्रखंड के उत्क्रमित मध्य विद्यालय अंदौली के शिक्षक फूलन कुमार के अंगूठे के निशान के समय उनका बायोमीट्रिक पहचान सही नहीं पाया गया. बार-बार प्रयास करने के बावजूद उनका मिलान सही ढंग से नहीं हो सका।

इसकी सूचना मिलते ही डीईओ समर बहादुर सिंह के नियंत्रण कक्ष के कर्मी रमण कुमार ठाकुर, परवेज अहमद, आनंद कुमार आदि ने इस फर्जी शिक्षक को अंगूठा छाप कक्ष से निकालकर अलग कमरे में बंद कर दिया. नियंत्रण कक्ष की त्वरित कार्रवाई से अलीनगर के बीईओ एवं संबंधित एचएम को भी बुलाकर नियंत्रण कक्ष में रखा गया। डीईओ ने लहेरियासराय थाने में प्राथमिकी दर्ज कराने का निर्देश दिया। उन्होंने केस नंबर और तारीख के साथ रिपोर्ट उपलब्ध कराने की भी बात कही. डीईओ स्तर से जारी पत्र में कहा गया है कि उक्त शिक्षक का बायोमीट्रिक मिलान अंगूठा स्थल पर नहीं हो सका है. कोई भी फोटो मेल नहीं खाया. पूछताछ के दौरान अभ्यर्थी ने स्वीकार किया कि उसकी जगह फुलपरास से कोई व्यक्ति परीक्षा में बैठा था.

ये भी पढ़े-     बिहार के इस सरकारी स्कूल में हर दिन होती है शराब पार्टी, सहरसा के हेडमास्टर बोले- मैं परेशान हूं

WhatsApp Follow Me
Telegram Join Now
Instagram Follow Me

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top