दाऊद इब्राहिम को जहर देना कितना सही? नई जानकारी आई है

18 दिसंबर की सुबह से दाऊद इब्राहिम के अस्पताल में भर्ती होने को लेकर कई खबरें आ रही हैं. ज्यादातर खबरें सोशल मीडिया से आ रही हैं और अपुष्ट हैं। कुछ रिपोर्ट्स में ये भी कहा जा रहा है कि दाऊद को जहर दिया गया है. सत्य क्या है?

क्या दाऊद इब्राहिम को किसी ने जहर दिया है? 18 दिसंबर की सुबह खबर आई कि भारत का मोस्ट वांटेड अपराधी दाऊद इब्राहिम अस्पताल में भर्ती है. फिर तरह-तरह की अटकलें लगने लगीं कि उसे भर्ती क्यों किया गया, क्या दाऊद को किसी ने जहर दे दिया था, क्या दाऊद मरने वाला था. फिलहाल दाऊद की हालत क्या है ये तो साफ तौर से पता नहीं चल पाया है, लेकिन इंडिया टुडे के सूत्रों के मुताबिक, कुछ खुफिया रिपोर्ट इस बात की पुष्टि कर रही हैं कि दाऊद को किसी ने जहर नहीं दिया है. इन रिपोर्ट्स के मुताबिक, दाऊद को कई स्वास्थ्य संबंधी परेशानियां हैं, जिसके चलते वह अस्पताल में भर्ती है। लेकिन किसी ने जहर दे दिया, ये खुफिया रिपोर्ट ऐसी खबरों को नकार रही हैं.

दाऊद के इलाज के लिए कड़ी सुरक्षा
इंडिया टुडे से जुड़े दिव्येश सिंह की एक रिपोर्ट इस बारे में विस्तार से बताती है. इसके मुताबिक, दाऊद को गंभीर हालत में पाकिस्तान के कराची के एक अस्पताल में भर्ती कराया गया है। रिपोर्ट में कहा जा रहा है कि दाऊद को 2 दिनों के लिए भर्ती कराया गया है, खबर 18 दिसंबर को सामने आई. चूंकि दाऊद अस्पताल में भर्ती है इसलिए सुरक्षा भी कड़ी रखी गई है. जिस फ्लोर पर दाऊद है उस फ्लोर पर किसी दूसरे मरीज को नहीं रखा गया है. सिर्फ चुनिंदा हॉस्पिटल स्टाफ और दाऊद के परिवार वालों को ही वहां जाने की इजाजत है। यह जानकारी दिव्येश सिंह की रिपोर्ट में दाऊद गैंग के एक पूर्व सदस्य के हवाले से दी गई है. मुंबई पुलिस इस मामले में अंडरवर्ल्ड डॉन अलीशा पार्कर और साजिद वागले के रिश्तेदारों से और जानकारी हासिल करने की कोशिश कर रही है.

अगर कुछ नहीं हुआ तो इंटरनेट क्यों बंद है?
दाऊद को जहर दिए जाने की सारी बातें पाकिस्तानी यूट्यूबर आरज़ू काज़मी के एक वीडियो से शुरू हुईं। इस वीडियो में उन्होंने दावा किया कि दाऊद कराची के एक अस्पताल में भर्ती है और किसी ने उसे जहर दे दिया है. इसी वीडियो में यूट्यूबर ने यह भी कहा कि चूंकि यह एक बड़ा मुद्दा है, इसलिए पाकिस्तान के कई शहरों में इंटरनेट भी बंद कर दिया गया है.

अब सवाल यह है कि सच क्या है?

पता नहीं। तमाम रिपोर्ट्स में अब भी दावा किया जा रहा है कि दाऊद अस्पताल में भर्ती है। लेकिन इस बात की कोई पुष्टि नहीं हुई है कि उन्हें जहर दिया गया है. हो सकता है इसकी कोई पुष्टि न हो क्योंकि पाकिस्तान दावा करता रहा है कि दाऊद वहां नहीं रहता.

ये बात जरूर सच है कि 17 और 18 तारीख को पाकिस्तान के कई शहरों में इंटरनेट बंद रहा. लेकिन ऐसा नहीं लगता कि इसकी वजह दाऊद है. दरअसल, इमरान खान की पार्टी पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ यानी पीटीआई ने आगे की योजनाओं पर चर्चा के लिए एक वर्चुअल मीटिंग का आयोजन किया था, जिसमें अलग-अलग शहरों से कई कार्यकर्ताओं को हिस्सा लेना था. इस लामबंदी को नियंत्रित करने के लिए ही इंटरनेट धीमा या बंद किया गया।

वीडियो: दाऊद इब्राहिम को किसी अनजान शख्स ने दिया जहर? डॉन को कराची अस्पताल में क्यों भर्ती कराया गया?

WhatsApp Follow Me
Telegram Join Now
Instagram Follow Me

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top